वाराणसी से नामांकन के दौरान पीएम मोदी ने अपनी संपत्ति का ब्योरा दिया, जाने देश के प्रधानमंत्री की क्या-क्या संपत्ति है?

Photo of author

Reported by Pankaj Yadav

Published on

PM MODI NET WORTH: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा इलेक्शन को लेकर वाराणसी की सीट से अपना नामांकन कर दिया है। 14 मई को अपने नामांकन को दायर करते समय उनकी तरफ से हलफनामे में प्रॉपर्टी एवं आय से जुड़ी डीटेल्स दी गई। यह तीसरा मौका था जब पीएम मोदी वाराणसी की लोकसभा सीट से नामांकन कर रहे है। काफी लोगो को इस बात की जानकारी नहीं होगी कि पीएम मोदी की आय का बड़ा सोर्स क्या है?

देश के प्रधानमंत्री मोदी की प्रॉपर्टी?

बहुत लोगो के मन में यह प्रश्न आता ही है कि पीएम मोदी किसी भी तरह से इनकम कर सकते है। किंतु सच तो यह है कि ऐसी कोई बात नही है चूंकि प्रधानमंत्री ने अपने नामांकन के हलफनामे में कुल प्रॉपर्टी को 3.02 करोड़ दर्शाया है। खास बात यह देखी गई कि उनके हलफनामे में किसी प्रकार का घर, वाहन एवं जमीन के डीटेल्स नही है। आप लोग भी देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आय के डीटेल्स को लेख में जान सकेंगे।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

नामांकन पत्र में मोदी की प्रॉपर्टी

लोकसभा इलेक्शन के दौरान पीएम मोदी ने वाराणसी की सीट से प्रत्याशी बनकर उनकी प्रॉपर्टी से जुड़ी डीटेल्स दी है। पीएम के पास सोने की 4 अंगूठी है जोकि 2.67 लाख रुपए मूल्य की है और उनके पास 9.12 हजार रुपए की कीमत के राष्ट्रीय बचत प्रमाण पत्र भी है। साथ ही पीएम के पास बचत प्रमाण पत्र मतलब NSC सरकार के सपोर्ट वाली एक खास इनकम स्कीम भी है जिसका फायदा पोस्ट ऑफिस से मिलता है। खबरों के मुताबिक ये NSC प्रतिवर्ष 7.7 फीसदी का ब्याज देती है। धारा 80C के अंतर्गत इससे बडे़ फायदे भी मिल जाते है।

पीएम ने इन इनकम टैक्स दिया

मीडिया में खबरे देखे तो पिछले वित्त वर्ष में पीएम मोदी के द्वारा 3.33 लाख रुपए का इनकम टैक्स भरा गया। उनके हलफनामे को देखे तो अचल प्रॉपर्टी को लेकर जीरो इंट्री है। वैसे भूमि एवं इसी प्रकार की प्रॉपर्टी कैटेगरी में सम्मिलित नहीं होते है। यहां जान लें कि प्रधानमंत्री मोदी इस लोकसभा इलेक्शन में हर बार की तरह से उत्तर प्रदेश के वाराणसी से चुनावी मैदान में है।

यही से उन्होंने अन्य भाजपा सांसदों के साथ में नामांकन किया है। इसी प्रक्रिया में उनकी तरफ से जरूरी पेपर्स भी जमा किए गए है जोकि अधिक डिटेल्स देते है। मोदी साल 2014 में वाराणसी से ही प्रत्याशी बनकर प्रधानमंत्री बने थे।

नामांकन पत्रों की आज से जांच होगी शुरू

इस समय पर वाराणसी की सीट से कुछ उम्मीदवारों की संख्या 41 हो चुकी है और 15 मई को ही सभी नामांकन पत्रों की चेकिंग का काम हो जायेगा। किसी भी प्रत्याशी के द्वारा 17 मई की तारीख तक अपना नामांकन वापस लेने का काम हो सकेगा। 17 मई को अंतिम रूप से साफ हो जाएगा कि वाराणसी की सीट से कितने उम्मीदवार चुनावी मैदान में होंगे।

यह भी पढ़े:- रफाह में कार्यवाही जारी रखते हुए नेतान्याहू ने हमास के पूरे खात्मे की बात कही, अमेरिकी सांसद ने इजराइल को परमाणु हमले की सलाह दी

गंगा आरती के साथ काल भैरव के दर्शन किए

वाराणसी से अपने नामांकन को दाखिल करने से पहले पीएम मोदी ने दशाश्वमेध घाट पर जाकर माता गंगा की आरती करके काशी के ही कोतवाल बाबा काल भैरव का दर्शन लिया। इसी बीच पीएम ने जिला निर्वाचन अफसर के कार्यालय में ही आचार्य गणेश्वर शास्त्री द्रविड़ एवं यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ भी उपस्थित रहे थे।

Leave a Comment

हमारे Whatsaap चैनल से जुड़ें